Latest

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Sunday, 12 August 2018

इस 15 august independence day में सकारात्मक सोच भाग in Hindi 17 :- खुद पर पूरा भरोसा ना होना भी अच्छा है

इस 15 august independence day में सकारात्मक सोच भाग  in Hindi 17 :- खुद पर पूरा भरोसा ना होना भी अच्छा है


"यह आलेख सकारात्मक सोच इस 15(August) अगस्त में सकारात्मक सोच भाग  in Hindi 17 :- खुद पर पूरा भरोसा ना होना भी अच्छा है के बारे में है मेरे बारे में हमारे जीवन में सोच का बहुत महत्व होता है। जब हमारी सोच सही होती है या जब हम सकारात्मक सोचते हैं तो हमारे सभी काम भी सही तरीके से पूरे हो जाता है। जे व्यक्ति की सोच, सकारात्मक (पॉज़िटिव) सोच। जीवन, यह एक हमेशा चलते रहना चाहते हैं, सकारात्मक सोच आपको और अधिक खुशी, शांति, प्यार, सफलता और कई अन्य लोगों को अपना आत्मविश्वास, आत्म-सम्मान, साहस, आप डर से मुक्त महसूस करते हैं जो आप वर्तमान में सामना करते हैं। या आप अपने जीवन में कुछ भी करना चाहते हैं लेकिन आप किसी स्थान पर फंस गए हैं तो सकारात्मक ऊर्जा आपको इससे बाहर निकलने में मदद करती है हिंदी में सकारात्मक सोच से कई अलग-अलग लाभ इसलिए सकारात्मक रहें और अपने जीवन में आगे बढ़ें इस प्रकार के लेख आपको आपकी मदद करते हैं जीवन जहां ढेर सारी खुशियों के बीच में दुःख भी आते हैं। बहुत सारी खुशियों के बाद, दुःख भी उत्पना ही आता है और वह चक्कर फिर से चालू होता है,इस इस 15 august independence day में सकारात्मक सोच भाग  in Hindi 17 :- खुद पर पूरा भरोसा ना होना भी अच्छा है|"


इस 15 august independence day में सकारात्मक सोच भाग  in Hindi 17 :- खुद पर पूरा भरोसा ना होना भी अच्छा है
15 august independence day  2018




खुद पर पूरा भरोसा ना होना भी अच्छा है


किसी भी नई शुरुआत से पहले मन थोड़ा घबराता है भरोसा डगमगाने लगता है फिर भले ही हम कुशल हो और कितने ही बढ़िया काम कर चुके हो क्या मैं कर सकूंगा मुझ में इतनी ताकत कहां मैं इतना सुंदर नहीं काम नहीं हुआ तो जैसे खुद से जुड़े कुछ सवाल बेचैन करती ही है हालांकि ऐसा सब के साथ होता है पर हमें लगता है कि हम ही हैं जो खुद पर भरोसा की कमी से घिरे रहते हैं।

खुद पर भरोसा बनने में समय लगता है कई बार ज्यादा ही लग जाता है इस वजह से कई बार लोग हम पर हंसते भी हैं तो कोई बार हमें हम ही खुद पर झुंझला उठते हैं पर ना ही हमारे यह डर बेवजह होते हैं और ना ही तरक्की में रोडवेज बस सफलता पाने की कड़ियां है अपने एक इंटरव्यू में मशहूर टेनिस खिलाड़ी वीनस विलियम्स कहती हैं खुद पर संदेह होना सामान्य है और सब को होता है खुद पर भरोसा होना और डगमगाना दोनों ही सच है सब इसका सम्मान करते हैं खुद पर सवाल करना तरक्की में रोड़ा नहीं होता यह एक तैयारी है मनोविज्ञानी = मर कभी कहती है पूर्ण आत्मविश्वास सही नहीं होता हमें खुद पर भरोसा और सही नतीजे पाने के लिए होने वाले संडे के बीच संतुलन बनाना होता है और इसकी जरूरत हमेशा होती है कई बार खुद पर उठने वाले यह सवाल हमें बेहतर विकल्प और नतीजों तक पहुंचाते हैं अभिनेता और हास्य कलाकार मिशेल पैलिन कहते हैं खुद पर भरोसे की कमी से खड़े हुए सवालों से जूझना ही मेरी प्रेरणा है मैं खुद को गलत साबित करने हुए आगे बढ़ता हूं ।


डर को सुनने , झुंझलाए नहीं


भरोसे में कमी होना एक बात है और बिलकुल भरोसा ना होना अलग चुनौती सामने हो तो थोड़ी सावधानी लाजमी है फिर भरोसे की कमी के कारण क्या है यह समझना भी जरूरी है हमारे कुछ डर हमारे सही परफेक्ट और सफल होने जैसी चाहत से जुड़े होते हैं पर कुछ संदेश शर्मिंदगी कुंठा यस या जलन वहीं भावों की उपज होते हैं जिनकी वजह से हम कामों की टालने लगते हैं बेचैन रहते हैं अवसाद से घिरे रहते हैं 

मनोविज्ञानी कहते हैं कि हम जितना अधिक इन भावों से घिरे होते हैं उतना ही डरा हुआ महसूस करते हैं उतना ही ज्यादा झुंझलाते हैं समस्या तो भी यही है हमें खुद के भरोसे की कमी से नहीं हिलता के दुष्चक्र से बाहर निकलना होता है जिसके लिए पूरे बुरा भला नहीं पर थोड़ा भरोसा खुद पर रखना ही होता है।

* मन में कई सारे विचार और सवाल एक साथ दौड़ रहे हैं तो किसी अनुभवी या गरीबी की मदद लें ऐसे लोगों से बात करें जो आपको सुनाई वह समझे।

*गलत वह बुरी सोच वालों की जगह ऐसे लोग के साथ रहे जो आपकी शुभचिंतक हो जो चापलूसी करने या छोटा एहसास कराने की जगह आपको सही सलाह दें आप को प्रेरित करें।

*पिछली गलतियों के लिए खुद को माफ करें हर समय उनका बोझ खुद पर ला देना रहें एक समय गलती हुई है तो हमेशा गलती होगी ऐसा नहीं है.

*हवाई लक्ष्य ना बनाएं छोटे छोटे कदम बढ़ाए इससे खोया हुआ भरोसा भी लौट आएगा.

*सबको खुश करने की कोशिश ना करें वह करें जो ज्यादातर को खुशी दे जो आपको खुशी दे!

*खुद पर सवाल उठाना है जरूरी-
खुद पर उठने वाले सवालों के कई फायदे हैं बिजनेस स्लो एग्जिट TV कोच श्रीधर लक्ष्मण कहते हैं अपनी कमियों पर नजर रख पाते हैं उन्हें समय पर सुधार पाते हैं अति आत्मविश्वास ना होने के कारण अच्छी योजना बनाने पर ध्यान देते हैं सही लोगों से संसाधनों से जुड़ते हैं।

पूरा भरोसा किसी को नहीं होता असुरक्षा का भाव हरमन में पालती मारकर बैठा होता है जो कभी ना हमें पीछे हटने के लिए कहता है तो कभी खुद को बार-बार तोड़ने और संभालने के लिए पर क्या कदम बढ़ाने से पहले थोड़ी तैयारी जरूरी नहीं.



मुझे उम्मीद है कि आपको यह सकारात्मक लेख पसंद है अंदर की आवाज़ें अनसुना ना करें ताकि आप प्रेरित हो जाएं और अपने जीवन में मुस्कुराते रहें
आने के लिए धन्यवाद !!।इस 15 august independe nce day में सकारात्मक सोच भाग  in Hindi 17 :- खुद पर पूरा भरोसा ना होना भी अच्छा है

सकारात्मक सोच,सुविचार ,सुविचार हिंदी मे,सकारात्मक विचार ,सुविचार हिंदी में ,सुविचार इन हिंदी ,अच्छी सोच ,हिंदी सुविचार सुविचार फोटो सहितहिन्दी सुविचार फोटो ,सुविचार हिंदी ,anmol suvicharहिंदी सुविचार संग्रह ,सकारात्मक ,positive thinking in hindi

No comments:

Post a Comment

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();

Post Top Ad