Infosys agree to $2 billion buyback of shares,इन्फोसिस शेयरों के 2 अरब डॉलर के बायबैक से सहमत हैं - EM

Go social

test banner

Latest

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Motivational Quotes

Saturday, 19 August 2017

Infosys agree to $2 billion buyback of shares,इन्फोसिस शेयरों के 2 अरब डॉलर के बायबैक से सहमत हैं

Infosys agree to $2 billion buybacks of shares 

india second largest IT firm ,Narayan Murthy,vishal sikka
Infosys agree to $2 billion buyback of shares,इन्फोसिस शेयरों के 2 अरब डॉलर के बायबैक से सहमत हैं




India's second-biggest IT firm Infosys said on Saturday it will buy back shares worth up to 130 billion rupees ($2 billion), a day after Vishal Sikka resigned as chief executive after a long-running feud with the company's founders.
The board of Bengaluru-headquartered Infosys approved the repurchase of 113 million shares at 1,150 rupees apiece, the company said in a stock exchange filing, returning cash to investors at a substantial premium to Friday's closing price of 923.25 rupees.
The announcement of the company's first-ever buyback will offer some respite to Infosys shareholders, who saw a near 10 percent fall in the value of their holdings on Friday after Sikka's surprise exit.
Sikka, the first non-founder chief executive of the company, announced his sudden resignation following a protracted war of words with the founder's group, led by Narayana Murthy.
The move is also likely to calm some former executives who had been clamoring for a buyback as a row between the founders and the current management of Infosys over alleged corporate governance lapses at the company spilled into the public domain.
Infosys had said in April it intended to return $2 billion to shareholders before March 2018 while also announcing the appointment of an independent director as co-chairman, both moves largely seen as attempts to calm the founders


GOOGLE PIXEL FIRST IN LINE, ANDROID O ROLLOUT TO BEGIN, GOOGLE पिक्सेल पहली पंक्ति में, एंड्रॉइड ओ रोलआउट शुरू होगा




इन्फोसिस शेयरों के 2 अरब डॉलर के बायबैक से सहमत हैं



भारत की दूसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी इंफोसिस ने शनिवार को कहा कि वह 130 अरब रुपये (2 अरब डॉलर) तक के शेयरों को वापस खरीद लेंगे, एक दिन बाद विशाल सिक्का कंपनी के संस्थापकों के साथ लंबे समय से चल रहे विवाद के बाद मुख्य कार्यकारी अधिकारी से इस्तीफा दे दिया।

बेंगलुरु के मुख्यालय इन्फोसिस के बोर्ड ने 1150 रूपए में 113 मिलियन शेयरों की पुनर्खरीद को मंजूरी दे दी, कंपनी ने स्टॉक एक्सचेंज में दाखिल किया, जिसमें 923.25 रूपये के शुक्रवार की समापन मूल्य पर पर्याप्त प्रीमियम में निवेशकों को नकद वापस किया गया।

कंपनी की पहली बैकबैक की घोषणा से इंफोसिस के शेयरधारकों को कुछ राहत मिल जाएगी, जिन्होंने शुक्रवार को सिक्का के आश्चर्यजनक निकास के बाद उनकी हिस्सेदारी के करीब 10 फीसदी गिरावट देखी।

कंपनी के पहले गैर-संस्थापक मुख्य कार्यकारी सिक्का, नारायण मूर्ती के नेतृत्व में संस्थापक के समूह के शब्दों के दीर्घ युद्ध के बाद अचानक उनके इस्तीफे की घोषणा की।

यह कदम कुछ पूर्व अधिकारियों को भी शांत करने की संभावना है जो कि संस्थापकों और इन्फोसिस के मौजूदा प्रबंधन के बीच एक पंक्ति के रूप में बायबैकिंग के लिए संघर्ष कर रहे थे, कंपनी के सार्वजनिक क्षेत्र में गिरावट के कारण कॉर्पोरेट प्रशासन की कमी हुई थी।

इंफोसिस ने अप्रैल में कहा था कि वह मार्च 2018 से पहले शेयरधारकों को 2 अरब डॉलर लौटने का इरादा रखता है, जबकि एक स्वतंत्र निदेशक के रूप में सह-अध्यक्ष की नियुक्ति की घोषणा भी करते हैं, दोनों ने मोटे तौर पर संस्थापकों को शांत करने के प्रयासों के रूप में देखा
Individual if you like my post then share with your friends and family and comment below for more feedback visit for latest updates thanks for visiting:))

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad

Responsive Ads Here